UP banking sakhi yojana: यूपी बैंकिंग सखी योजना क्या है, UP BC Sakhi, यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण, यूपी सरकार की योजनाएं
up banking sakhi yojana kya hai

UP banking sakhi yojana 2023: आम जनता की इन सब समस्याओं को देखते हुए राज्य सरकार अपने अपने क्षेत्र में कई तरह की नई-नई योजनाओं को लागू कर रही है। जिससे सरकार लोगों की आर्थिक रूप में मदद कर सकें। ऐसी ही  यूपी सरकार ने भी लोगों की मदद के लिए राज्य में यूपी बैंकिंग सखी योजना UP banking Sakhi Yojana) की शुरुआत की गई। यह योजना कोरोना काल में ग्रामीण महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है।


तो आइए, आज हम द रुरल इंडिया के इस लेख में यूपी बैंकिंग सखी योजना (UP banking Sakhi Yojana 2023) के बारे में विस्तार से जानते हैं।


इस लेख में आप जानेंगे।

  1. यूपी बैंकिंग सखी योजना क्या है।

  2. यूपी बैंकिंग सखी योजना का मुख्य उद्देश्य

  3. यूपी बैंकिंग सखी योजना में महिलाओं को हर माह कितनी मिलेगी सैलरी ।

  4. यूपी बैंकिंग सखी योजना में आवेदन के लिए योग्यता

  5. यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण

  6. यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए आवेदन एप्लीकेशन कैसे प्राप्त होगी।


यूपी बैंकिंग सखी योजना क्या है (what is UP banking Sakhi Yojana)

यूपी बैंकिंग सखी योजना (UP banking Sakhi Yojana) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा  22 मई 2020 को पूरे राज्य में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत महिलाओं को रोजगार प्रदान करना है।


यूपी सरकार का कहना है कि इस योजना के अनुसार, महिलाओं को Banking Correspondent के रूप में तैनात करना है, जिससे की ग्रामीण व कम पढ़े लिखे लोगों को पैसे से संबंधी लेन-देन में किसी भी तरह की कोई समस्या न हो और साथ ही इस योजना से महिलाएं सशक्त होगी और उन्हें एक प्राप्त रोजगार मिलेगा, जिससे उनको अपने घर व निजी समस्याओं में  इस योजना से काफी मदद मिलेगी। इस योजना के द्वारा लोगों को बैंक में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि अब उनके पैसे घर बैठे उनके सखी महिलाएं डिलीवरी करेंगी।



यूपी बैंकिंग सखी योजना का मुख्य उद्देश्य

  • राज्य में लगभग 58000 महिलाओं को रोजगार देने का लक्ष्य।  

  • राज्य को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना।

  • पैसों की लेन-देन का सुचारू रूप से ध्यान रखना।

  • ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को पैसे के लेनदेन में मदद करना।

  • घर बैठे लोगों को बैंकिंग सुविधा उपलब्ध करना।


यूपी बैंकिंग सखी योजना में महिलाओं को हर माह कितनी मिलेगी सैलरी

आपको बता दें कि यूपी बैंकिंग सखी योजना (UP banking Sakhi Yojana) में महिलाओं को शुरुआती 6 महीने तक 4 हजार रुपए के हिसाब से वेतन दिया जाएगा। साथ ही इसके आलाव इस योजना में महिलाओं को ट्रांजेक्शन करने पर उन्हें एक निश्ति कमीशन भी दिया जाएगा और साथ ही वह इंसेंटिव भी आसानी से कमा सकती है। कुल मिलाकर महिलाएं इस योजना में प्रतिमाह 24000 रुपए अपने वेतन से अलग कमा सकती हैं।


यूपी बैंकिंग सखी योजना में आवेदन के लिए योग्यता

  • इस योजना में शामिल होने के लिए  महिलाओं को राज्य का स्थाई निवासी का होना जरूरी है।

  • यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए महिलाओं को कम से कम 10वीं पास होना चाहिए।  

  • इस योजना में पहले उन महिलाओं के अधिक प्राथमिकता दी जाएंगी, जिसे बैंकिग क्षेत्र से जुड़े हो या बैंकिंग क्षेत्र में काम करना का थोड़ा बहुत अनुभव हो।

  • नियुक्त महिलाओं को इलेक्ट्रानिक डिवाइस और इंटरनेट चलाने की समझ होनी चाहिए।  


यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण

यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए महिलाएं आवेदन केवल मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से ही कर सकती हैं। आवेदन के दौरान आपको एप्लीकेशन में पांच चरण दिए जाएंगे। जिसे आपको ध्यान पूर्वक भरना होगा और फिर Next के बटन पर क्लिक करें और फिर सभी जानकारी दर्ज करने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें।  


आगर एप्लीकेशन आवेदन फॉर्म में आपके द्वारा कोई गलत जानकारी भर दी गई है, तो घबराएं नहीं समय रहते इस एप्लीकेशन में आप वापस से उसे ठीक कर सकते हैं और फिर पुनः सबमिट के बटन पर क्लिक कर सकते हैं।  


यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए आवेदन एप्लीकेशन कैसे प्राप्त होगी

जैसे कि अब आप जानते है कि इस योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया केवल ऑनलाइन ही कर सकते है। तो आप सब यह सोच रहे होंगे की। यहां एप्लीकेशन आपको कैसे और कहां से प्राप्त हो सकती है। तो घबराएं नहीं यूपी बैंकिंग सखी योजना (UP banking Sakhi Yojana) के लिए एप्लीकेशन एप के द्वारा प्राप्त होगी, जिसे आप आसानी से अपने मोबाइल के गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। जिसके लिए आपको प्ले स्टोर के सर्च बार में UP BC Sakhi टाइप करना होगा और फिर आप इस ऐप को आसानी से अपने मोबाइल फोन में डाउनलोड कर यूपी बैंकिंग सखी योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।


ये भी पढ़ें- 

Axact

Contribute to The Rural India (Click Now)

हम बड़े मीडिया हाउस की तरह वित्त पोषित नहीं है। ऐसे में हमें आर्थिक सहायता की ज़रूरत है। आप हमारी रिपोर्टिंग और लेखन के लिए यहां क्लिक कर सहयोग करें।🙏

Post A Comment:

0 comments: