गधी के दूध का व्यवसाय (Donkey Milk Farming) भारत में बहुत ही कम किया जाता है। गधी के दूध के फायदे से लेकर गधी पालन व्यवसाय (Donkey Milk Farming)
गधी पालन: गधी के दूध के फायदे और उसका व्यवसाय, यहां जानें

Donkey Milk Farming: गधी का दूध…… चौंकिए नहीं। गधी का दूध (Donkey Milk) 50 रु. लीटर या 1000 लीटर नहीं, बल्कि गधी के एक लीटर दूध की कीमत 5000 रुपए तक होती है। आजकल गधी के दूध पर कई तरह के शोध किए जा रहे हैं। 


आज हम आपको द रूरल इंडिया के इस ब्लॉग में गधी के दूध के फायदे से लेकर गधा पालन व्यवसाय (Donkey Milk Farming) के बारे में बता रहे हैं। 


तो आइए सबसे पहले गधी के दूध पर एक नज़र डाल लेते हैं।


गधी के दूध पर एक नज़र (Donkey Milk)

  • गधी के दूध से ब्यूटी प्रोडक्टस बनाए जाते हैं। 

  • गधी का दूध (Donkey Milk) बहुत ही स्वादिष्ट होता है।

  • साथ ही इसमें चिकित्सीय गुण भी मौजूद होते हैं। 

  • गधी के दूध की मांग दुकानों में, मॉल और सुपर मार्केट में बहुत ज्यादा है। 

  • गधी के दूध से साबुन, मॉइस्चुराइजर और क्रीम बनाई जाती है।

  • गधी के दूध (Donkey Milk) से बनने वाली एक साबुन की कीमत 500 रुपए तक होती है। 

  • गधी के दूध में एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी एजिंग और रीजेनेरेटिंग कंपाउंड्स होते हैं। इससे त्वचा मुलायम रहती है। 

  • गधी के दूध (Donkey Milk) में विटामिन ई, विटामिन ए, विटामिन बी1, बी6, सी, डी, ओमेगा 3, 6 और अमीनो एसीड जैसे औषधीय तत्व पाए जाते हैं। 


आपको बता दें, गधी के दूध का व्यवसाय (Donkey Milk Farming) भारत में बहुत ही कम किया जाता है। अभी इस व्यवसाय की शुरुआत है। आगे जैसे इसकी मांग बढ़ेगी वैसे ही गधा पालन व्यवसाय और मार्केट बढ़ता ही चला जाएगा। इसकी डिमांड भी मार्केट में बहुत है। गधी का दूध (Donkey Milk) निकाल कर मार्केट में, मॉल में, सुपर मार्केट में बेच सकते हैं। 


गधी पालन का व्यवसाय कैसे करें

गधी का दूध का व्यवसाय (Donkey Milk Farming) करने के लिए आपको थोड़ी जमीन और लगभग 5 से 10 गधी की जरूरत पड़ेगी। साथ में एक या दो नर गधा की भी जरूरत होगी। इसके बाद आपको गधी के आहार और समुचित देखभाल की जरूरत पड़ेगी। 


गधा पालन से लाभ (benefits of donkey farming)

गधी पालन से नर गधों का भी उपयोग माल ढुलाई में कर सकते हैं। खच्चर पैदा करने के लिए भी गधी की जरूरत होती है। छोटे-मोटे सामान ढोने का काम गधे बड़े आराम से करते हैं। तंग और छोटी गलियों में सामान ले जाने और लाने का काम गधों से बहुत होता है। इसके अलावा धोबी घाट पर कपड़े ले जाने के लिए गधे का ही उपयोग करते हैं। 


गधी के दूध का व्यवसाय (Donkey Milk Farming)

गधी एक दिन में 250 ग्राम से 500 ग्राम तक दूध देती है। यदि आपके पास 10 गधी हो तो प्रतिदिन 5-6 लीटर दूध का उत्पादन कर सकते हैं। अब आपके मन में यह सवाल हो रहा होगा कि गधी का दूध (Donkey Milk) कहां बेचें, तो आपको बता दें, आजकल कई कंपनियां गधी का दूध खरीदकर उससे महंगे प्रोडक्स बना रही हैं। आप उन कंपनियों से संपर्क करके दूध सप्लाई कर सकते हैं। कई ब्यूटी प्रोडक्स जैसे- साबुन, क्रीम मॉइसराइजर बनाकर आप खुद बाजार में बेच सकते हैं। 


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

प्रश्न- गधी का दूध क्या क्या काम आता है?

उत्तर- गधी का दूध (Donkey Milk) ब्यूटी प्रोडक्स, साबुन, क्रीम और दवाइयां बनाने के काम आता है। 

प्रश्न- गधी का दूध क्या रुपए किलो है?

उत्तर- गधी का दूध (Donkey Milk) काफी महंगा बिकता है। गधी की दूध की कीमत 4 हजार रुपए से लेकर 5 हजार रुपए तक होती है।

प्रश्न- गधी का दूध इतना महंगा क्यों है?

उत्तर- गधी के दूध (Donkey Milk) में कई प्रकार के औषधीय गुण होते हैं। आमतौर पर गधी का दूध बहुत ही कम उपलब्ध होता है। यही कारण है कि गधी का दूध काफी महंगा होता है। 

प्रश्न- एक गधी 1 दिन में कितना दूध देती है?

उत्तर- एक गधी एक दिन में 250 ग्राम से लेकर 500 ग्राम तक दूध देती है।


ये तो थी, गधा पालन व्यवसाय और गधी के दूध के फायदे (Donkey Milk Farming) की बात। इसी तरह कृषि, मशीनरीकरण और बिजनेस आइडिया के लिए आज ही द रूरल इंडिया वेबसाइट विजिट करें। 


Axact

Contribute to The Rural India (Click Now)

हम बड़े मीडिया हाउस की तरह वित्त पोषित नहीं है। ऐसे में हमें आर्थिक सहायता की ज़रूरत है। आप हमारी रिपोर्टिंग और लेखन के लिए यहां क्लिक कर सहयोग करें।🙏

Post A Comment:

0 comments: